KBC winner binita Jain Ki Kahani

KBC winner binita Jain Ki Kahani

KBC winner binita Jain
KBC winner binita Jain

हेलो दोस्तो आज हम बात करनेवाले है KBC winner binita Jain की पूरी कहानी के बारे में.दोस्तो आज पूरे भारत मे सिर्फ एक ही चर्चा हो रही है KBC winner binita Jain.तो चलिए शुरू करते है आज का हमारा विषय KBC winner binita Jain.

KBC winner binita Jain

सबसे पहले हम तालियों की गड़गड़ाहट के साथ सन्मान करेंगे असम की बिनीता जैन का, जिन्होंने ‘कौन बनेगा करोड़पति’ के इस सीजन में एक करोड़ रुपये जीते हैं. २ अक्टूबर को प्रसारित हुए एपिसोड में करोड़पति बनीं बिनीता जैन को १५ वें सवाल का जवाब भी मालूम था और बिनीता जैन जी उस सवाल का जवाब देकर वो सात करोड़ रुपये जीत सकती थीं.लेकिन कोई भी रिस्क लेने से बचते हुए उन्होंने एक करोड़ जीतकर ही घर जाना पसंद किया.
मुंबई में एक खास बातचीत करते हुए बिनीता जैन जी ने कहा, ”मैं मानती हूं कि जो हमारे नसीब में लिखा होता है, हमे वही मिलता है. ७ करोड़ वाले सवाल के जवाब को लेकर मुझे सही से नहीं पता था. पर जो मैंने जवाब दिया, वो सही निकला. मैं जो जीती हुई रकम है उस रकम को अपने बेटे के डेंटल क्लीनिक के सेटअप के लिए खर्च करूंगी और मेरी इच्छा है कि उसमे से कुछ पैसा कोचिंग इंस्टीट्यूट के लिए लगाऊं!”
”असम से मुंबई आते हुए मुझको सबसे बड़ा डर यह था कि मैं खेल के पहले चरण को पार कर सकूं, जिसके बाद ही आप अमिताभ बच्चन के सामने बैठकर यह खेल खेल सकते हैं. क्योंकि सबसे बड़ी रुकावट मैं उसे ही मानती हूं। उसके बिना आपका कोई सपना पूरा नहीं हो सकता। इतना तो पता था कि अगर मैंने पहले चरण को पार कर लिया तो कुछ न कुछ तो जरूर कर ही लूंगी।”
बिनीता जैन जी को जिम जाने का और कुकिंग का शौक है. बिनीता जैन जी कहती हैं की, ”मुझे फिट रहने का शौक है। मैं लोगों से यही कहना चाहूंगी कि अपने अंदर की आवाज सुनो अंदर की आवाज। आप एक औरत हैं, ये सोचकर अपने सपनों को दबाना नहीं चाहिए और ना ही अपने सपनो के साथ कोम्प्रोमाईज़ करना चाहिए बल्कि हमे उन्हें पूरा करने की हर नामुमकिन कोशिश करनी चाहिए!”
बिनीता जैन जी बताती हैं की, ”मुंबई में आने से पहले मेरे बच्चे प्रैक्टिस करवाते थे.और रोज फास्टेस्ट फिंगर फर्स्ट का अभ्यास करवाते थे. बच्चे मुझे डांटते हुए ये तक कहते कि ऐसे तो आप पहुच ही नही पाएंगे हॉट सीट तक और मुझे बच्चों से काफी अच्छा सपोर्ट मिला. मैंने जिन जिन सवालों के जवाब दिए, मैं ये नहीं कहूंगी कि मुझे उन सवालो के जवाब पहले से पता थे। मैंने लाइफलाइन का भी इस्तेमाल किया। पुरानी जो नॉलेज थी उससे अमिताभ जी भी हैरान नजर आए।”
बिनीता जैन जी कहती है कि ”मैं सात करोड़ रुपये भी जीत जाती,लेकिन तब जो मैं महूसस करती उससे भी १० गुना ज्यादा खुशी मुझे अमिताभ बच्चन जी से मिलकर हुई. भविष्य में जब कभी भी अमिताभ बच्चन जी को देखूंगी तो ये सब याद आएगा की मैं खेल की शुरुआत में जब बोहत नर्वस हो गई थी, तो अमिताभ बच्चन जी ने मेरी बहुत हिम्मत बढ़ाई थी.

बिनीता जैन १५ वे सवाल तक कैसे पहुंची थीं
इस बारे में बिनीता जैन जी कहती हैं, ”मुझे उम्मीद थी कि १२ – १३ सवालों के जवाब तो मैं दे ही दूंगी. इससे ज्यादा मैंने कभी नहीं सोचा था। मेरे घरवाले मेरे जीतने से काफी ज्यादा खुश हैं। सबका बोहत ही प्यार मिल रहा है. आपको अगर कुछ करना है तो आपको उसके लिए खुद ही हिम्मत दिखानी होती है, अगर आप खुद हिम्मत नहीं दिखाएंगे तो कुछ भी नहीं हो सकता। अपने अंदर की इच्छा को समझना और उसे बाहर निकालना बेहद जरूरी होता है. आपके सामने हर रोज़ एक नई चुनौती आती है।”

बिनीता जैन जी ने अपनी कहानी सुनाते हुए १५ साल पुराना एक किस्सा शेयर किया,”यह बात है साल २००३ की. मेरे पति बिजनेस के सिलसिले में बाहर जाते रहते थे लेकिन वो एक दिन घर नहीं लौटे. बाद में पता चला कि उनका अपहरण कर लिया गया है. उन दिनों चरमपंथियों का बोहत खौफ रहता था. हम भी उसी की चपेट में आ गए. मेरे घरवालों ने कोई कमी नहीं छोड़ी. कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था कि क्या करें और क्या ना करे. हालात से समझौता करते हुए हमने सोच लिया कि इंतजार करते हुए हमें आगे बढ़ना चाहिए.और फिर मैंने सोचा कि पढ़ाने का काम कर लूं. इससे मैं घर पर भी रह सकती हूं और अपने बच्चों की देखभाल भी कर सकूंगी.”
बिनीता जैन ने शादी के बाद भी अपनी पढ़ाई जारी रखी थी. बिनीता जैन जी ने कहा, ”मैंने शादी के बाद अपने परिवार वालों के सामने अपने पढ़ने की इच्छा को जाहिर किया था और वो तैयार भी हुए. मेरे घरवालों ने मुझे जितना नहीं पढ़ाया है, उतना मेरी सास ने मुझे पढ़ाया है. जब मैंने ग्रैजुएशन पूरा किया था उस वक्त मेरा बेटा तीन साल का था. मेरे बच्चे अपने जिंदगी में जो भी करना चाहेंगे, मैं उन्हें वो करने दूंगी”.
बिनीता जैन जी केबीसी के शुरुआती पड़ाव पार कर चुकी थीं. अमिताभ बच्चन 14वां सवाल पूछते हैं, ”भारत में 13 जजों की सुप्रीम कोर्ट की सबसे बड़ी संवैधानिक पीठ ने किस केस की सुनवाई की थी?”.बिनीता जैन जी इस सवाल का “केशवानंद भारती केस” यह सही जवाब देती हैं.सही जवाब देते ही तालियों की गड़गड़ाहट के साथ अमिताभ बच्चन जी बिनीता जैन जी को एक करोड़ रुपये जीतने के लिए बधाई देते हैं. लेकिन अभी तक गेम का असली सवाल बाकी था जो बिनीता जैन जी को ७ करोड़ रुपये जितवा सकता था. ये सवाल था कि १८६७ में पहले स्टॉक टिकर की खोज किसने की थी? काफी वक्त लेने के बाद बिनीता जैन जी इस सवाल का जवाब ना देते हुए जीती हुई एक करोड़ रुपये की राशि लेकर गेम को छोड़ना चुनती हैं. जैसी ‘कौन बनेगा करोड़पति’ खेल की प्रथा है. अमिताभ बच्चन जी इस सवाल का जवाब पूछते हैं. और बिनीता जैन जी उस सवाल के जवाब में एडवर्ड केलहन कहती हैं. और ये बिल्कुल सही जवाब था। लेकिन बिनीता जैन जी गेम को क्विट कर चुकी थीं।
बिनीता जैन जी की शादी १९९१ में हुई थी और बिनीता जैन जी के दो बच्चे भी हैं.बिनीता जैन जी बतलाती हैं, ”पति के अपहरण तक सब कुछ ठीक चल रहा था. मैं सोचने लग रही थी कि अगर मैंने कुछ नहीं किया तो मैं डिप्रेशन में आ जाऊंगी. फिर मैंने घरवालों से काम करने के बारे में बात की. बिनीता जैन जी का ऐसा मानना है कि जब भी आप किसी ऐसे हालात में फंस जाते हैं तो भगवान खुद आपको ताकत देता है.” सोनी टीवी के ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ट्वीट किए वीडियो में बिनीता जैन जी जिम में एक्सरसाइज करती हुई नजर आती हैं.
बिनीता जैन जी कहती हैं, ”मेरे अंदर ये यकीन है कि मेरे पति जहां कहीं भी होंगे, वो ठीक होंगे. कहीं न कहीं तो वो ठीक ही होंगे. और मुझे लगता है कि शायद मेरे भी सितारे पलट जाएं और इनका रुख घर की तरफ हो जाए.”
तो दोस्तों KBC winner binita Jain की कहानी यह था आज का हमारा आर्टिकल. दोस्तो आपको हमारा KBC winner binita Jain की कहानी यह आर्टिकल आपको कैसा लगा यह हमें कमेंट करके जरूर बताइयेगा. और हमारे ब्लॉग को जरूर सब्सक्राइब कर लीजिये. ताकि हमारे आनेवाले हर एक नए आर्टिकल की खबर आपको सबसे पहले मिलती रहे.

आप हमारे अन्य आर्टिकल भी पढ़ सकते है

Like
Like Love Haha Wow Sad Angry
3

admin

(Amit Balghare) Founder of Mygapshup.com

One thought on “KBC winner binita Jain Ki Kahani

  • October 4, 2018 at 9:12 pm
    Permalink

    Kbc mera favorite program hai

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *